14 फरवरी को बसंत पंचमी पर्व एवं मातृ-पितृ पूजन दिवस बड़े हर्षोल्लास के साथ मनाया गया।

-

।।खबर सिद्धार्थ न्यूज से नीलकांत खटकर।।

सरसीवां 15 फरवरी 2024 । समीपस्थ ग्राम मनपसार के शासकीय प्राथमिक एवं पूर्व माध्यमिक विद्यालय में 14 फरवरी को बसंत पंचमी पर्व एवं मातृ-पितृ पूजन दिवस बड़े हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ मां सरस्वती के पूजन से किया गया। पूजन का कार्य नीरा बघेल के करकमलों से सम्पन्न हुआ तत्पश्चात उपस्थित माता-पिताओं का उनके पाल्य द्वारा पूजन किया गया। कार्यक्रम का संचालन प्रधान पाठक आर.के.जायसवाल ने किया। कार्यक्रम के महत्व की व्याख्या करते हुए श्री जायसवाल ने कहा कि आज की परिस्थिति में शिक्षा के साथ-साथ विद्या अर्थात संस्कार की जरूरत है। शिक्षा जहां जानकारी प्रदान करती है वहीं विद्या जीवन जीने की कला सिखाती है। संस्कारहीन व्यक्ति चाहे कितनी भी शिक्षा ग्रहण किया हो वह अपने स्वार्थ के बारे में ज्यादा सोचता है। आज के समय में व्यक्ति अपने माता-पिता का सम्मान करना भूलते जा रहे हैं। ऐसे में बच्चों की नैतिक शिक्षा पर हम सबको ध्यान देना चाहिए। श्री जायसवाल ने अपने से बड़ों को प्रणाम करने के महत्व की जानकारी देते हुए बच्चों को नित्य प्रणाम करने का संकल्प कराया साथ ही मां सरस्वती के अवतरण की जानकारी प्रदान की।  गायत्री साहू द्वारा कविता वाचन किया गया एवं  ममता बढ़ाई ने सामूहिक भजन प्रस्तुत की। इस कार्यक्रम में 22 माताओं ने भाग लिया। कार्यक्रम कों सफल बनाने में  शकुंतला जायसवाल, ममता बढ़ाई, हरलाल सिंह सिदार, गायत्री साहू, भागवत साहू एवं सभी बच्चों का सराहनीय योगदान रहा।

विज्ञापन बॉक्स (विज्ञापन देने के लिए संपर्क करें)

इसे भी पढे ----

वोट जरूर करें

Sorry, there are no polls available at the moment.

आज का राशिफल देखें